गुजरात विधानसभा के अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी ने संशोधित नागरिकता कानून के समर्थन में एक प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान कांग्रेस विधायक इमरान खेडावाला से सदन में अनुशासन बनाए रखने की अपील की है। यह अपील करते हुए कहा कि ‘आप पाकिस्तान में नहीं हैं।’ भाजपा सरकार द्वारा लाए गए इस प्रस्ताव में ‘ऐतिहासिक’ संशोधन लाने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की प्रशंसा की गई। यह मामला शुक्रवार (01 जनवरी) का है।

CAA के पोस्टर दिखाने पर विधानसभा अध्यक्ष ने दी नसीहतः चर्चा के दौरान अहमदाबाद की जमालपुर-खडिया सीट से पहली बार के विधायक कांग्रेस के खेडावाला ने सीएए और राष्ट्रीय नागरिक पंजी के खिलाफ पोस्टर दिखाया जिसपर उन्होंने अपने खून से ‘सीएए/एनसीआर/एनपीआर का बहिष्कार करो’ लिखा था। खेडावाला ने सत्र शुरू होने से पहले इसे मीडिया को दिखाया था। त्रिवेदी ने कहा कि वह टीवी पर इसे देख चुके हैं और विधायक को सदन में इसे दिखाने की जरूरत नहीं है।

विधानसभा अध्यक्ष के बयान पर खेडावाला ने जताई आपत्तीः मामले में विधानसभा के अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी खेडावाला के अचानक पोस्टर दिखाने पर कहा, ‘आप पाकिस्तान में नहीं हैं। आप पहले ही इसे दिखा चुके हैं।’ विधायक और कांग्रेस अध्यक्ष अमित चावड़ा ने इस पर एतराज जताया और कहा कि अध्यक्ष को ऐसी बात नहीं बोलनी चाहिए। त्रिवेदी ने कहा कि यदि खेडावाला कहते हैं कि इससे वह आहत हुए हैं तो वह माफी मांगने को तैयार हैं।

बता दें कि CAA को लेकर पूरे देश में विवाद चल रहा है। ऐसे में करीब सभी राज्यों में इसको लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है। इस बीच केन्द्र सरकार ने शुक्रवार को घोषणा की कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) 10 जनवरी से प्रभावी होगा। केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने एक गजट अधिसूचना में कहा कि कानून दस जनवरी से प्रभावी होगा, जिसके तहत पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के गैर-मुस्लिम शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता दी जाएगी।