देश का सबसे बडा धनवान तीर्थक्षेत्र तिरुपती भी कोरोना के चलते पैसे की कमी का संकट झेल रहा है. लॉकडाऊन के चलते तिरूमला के बालाजी का 400 करोड रुपये का नुकसान हुआ. संस्थान का कहना है की अभीतक उन्होने 300 करोड रुपये सॅलरी और अन्य मदों पे खर्च किये. अब उनके पास कैश नही है. प्रधान मंत्री के लगातार अपिल के बाद भी सभी बडे उद्योग घरानों ने भी कर्मचारीयों की तनख्वा काटी है. इस पर एक विश्लेषण.